February 28, 2024
atal bihari vajpayee stadium

भारतरत्न श्री अटल बिहारी वाजपेई इकाना क्रिकेट स्टेडियम

दोस्तों, इकाना क्रिकेट स्टेडियम आज के समय काफी चर्चा में है। इकाना क्रिकेट स्टेडियम 5 नवंबर 2018 को भारतरत्न श्री अटल बिहारी वाजपेई इकाना स्टेडियम के नाम पर रखा गया। यह क्रिकेट स्टेडियम अपने आप में काफी रोचक है, और अत्यंत ही महत्वपूर्ण भी है। क्या आप इकाना क्रिकेट स्टेडियम की खासियत के बारे में जानते हैं?

यदि आप नहीं जानते तो कोई बात नहीं। क्योंकि आज हम आप को भारतरत्न श्री अटल बिहारी वाजपेई इकाना क्रिकेट स्टेडियम के बारे में सारी जानकारी देने का प्रयास करेंगे, और आपको बताएंगे कि यह स्टेडियम कब स्थापित किया गया, यह क्यों महत्वपूर्ण है, और इसके नमांकरण के बारे में भी हम आपको सारी जानकारी देंगे।

चलिए शुरू करते हैं:-

भारतरत्न श्री अटल बिहारी वाजपेई इकाना क्रिकेट स्टेडियम

भारतरत्न श्री अटल बिहारी वाजपेई इकाना क्रिकेट स्टेडियम उत्तर प्रदेश का दूसरा सबसे बड़ा स्टेडियम है। यहां पर कई अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैचों का आयोजन होता है। इकाना क्रिकेट स्टेडियम को भारतरत्न श्री अटल बिहारी वाजपेई इकाना क्रिकेट स्टेडियम का नाम 5 नवंबर 2018 को मिला था। क्योंकि उस समय यहां पर इंडिया और वेस्टइंडीज का मैच खेला जाना था, जिसे अंत में इंडिया ने जीता था।

यह स्टेडियम एक सार्वजनिक और निजी भागीदारी का स्टेडियम है। यहां पर टेस्ट मैच ओडीआई मैच, T20 इंटरनेशनल मैच, इंडियन प्रीमियर लीग के कई मैच और अन्य घरेलू टूर्नामेंट भी यहां पर आयोजित किए जाते हैं।

यहां पर 50,000 से भी अधिक लोग एक साथ बैठकर इंटरनेशनल मैचों का लुत्फ उठा सकते हैं। 2022 में पहली बार इकाना क्रिकेट स्टेडियम का इस्तेमाल भारतीय जनता पार्टी की तरफ से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के शपथ समारोह के आयोजन के लिए भी किया गया था।

इकाना क्रिकेट स्टेडियम का निर्माण कब हुआ?

भारतरत्न श्री अटल बिहारी वाजपेई इकाना क्रिकेट स्टेडियम

भारतरत्न श्री अटल बिहारी वाजपेई इकाना क्रिकेट स्टेडियम का पूर्व नाम इकाना इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम था, जो कि सन 2017 से 2018 तक रहा था, इसका पता इकाना स्पोर्ट्ज सिटी लखनऊ में है। यह 104 मीटर ऊंचा स्टेडियम है, और यहां पर 50,000 से अधिक लोग एक साथ बैठकर मैच का लुत्फ उठा सकते हैं। यह गोलाकार का स्टेडियम है और 2017 में यह लोगों के मनोरंजन के लिए खोल दिया गया था।

क्रिकेट स्टेडियम में उत्तर प्रदेश क्रिकेट टीम, लखनऊ सुपरजायंट, भारतीय क्रिकेट टीम, भारतीय महिला राष्ट्रीय क्रिकेट टीम, अफगानिस्तान राष्ट्रीय क्रिकेट टीम इन सभी के द्वारा यहां पर मैच खेले जाते हैं। इसका निर्माण दिसंबर 2017 में समाप्त हो गया था।

इकाना क्रिकेट स्टेडियम का निर्माण आधिकारिक तौर पर 26 मार्च 2016 को हो चुका था, लेकिन यह पूरी तरह से तैयार नहीं था और इसे खेलने के लिए खोला नहीं गया था। इसे 16 दिसंबर 2017 को दर्शकों के लिए खेलने के लिए खोल दिया गया था।

इकाना क्रिकेट स्टेडियम का इतिहास

5 नवंबर 2018 को इकाना क्रिकेट स्टेडियम में भारत और वेस्टइंडीज के मध्य अंतरराष्ट्रीय मैच T20 और का होने वाला था, जो कि 6 नवंबर 2018 को हुआ था। इसीलिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के मैच की मेजबानी होने से पहले ही इस क्रिकेट स्टेडियम का नाम भारतरत्न श्री अटल बिहारी वाजपेई इकाना क्रिकेट स्टेडियम के नाम पर रखा गया था। भारत में यह 52वां स्टेडियम है जो कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के मैच की मेजबानी कर रहा था।

पूरे टूर्नामेंट में रोहित शर्मा ने चार शतक बनाने का काम किया था, और उस मैच को 71 रनों से जीता जो 5 नवम्बर 2017 को होने वाला था। मई 2019 में भी BCCI से अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने अंतरराष्ट्रीय मैचों के लिए इस्तेमाल करने का अनुरोध किया था, और जी के बीसीसीआई ने भी अगस्त 2019 में अफगानिस्तान की राष्ट्रीय टीम के साथ में भारत के मैच के लिए इस स्थान को अपने तीसरे घरेलू स्थान के रूप में नामित और सम्मानित किया।

इससे पहले अफगानिस्तान के साथ घरेलू टीम का मैच देहरादून और नोएडा में खेला जाता था, स्टेडियम में मई 2022 को महिला T20 टूर्नामेंट की मेजबानी का आयोजन भी किया गया था। लेकिन बाद में बच्चों को पुणे के महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में स्थानांतरित कर दिया गया था।

2023 के खेले जाने वाले आईपीएल के मैच भारतरत्न श्री अटल बिहारी वाजपई इकाना किक्रेट स्टेडियम में खेले जाएंगे। हालांकि यह कोविड-19 के महामारी से पहले बंद कर दिया गया था लेकिन 2023 के आईपीएल के टूर्नामेंट में यह फिर से ओपन किया जाएगा।

इकाना क्रिकेट स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम

मित्रों, इकाना क्रिकेट स्टेडियम पर कई प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। अभी तक अनेकों कार्यक्रम यहां पर आयोजित यह भी कर चुके हैं। 19 अगस्त 2021 को यहां पर भारत सरकार के द्वारा ग्रीष्मकालीन ओलंपिक में पदक जीतने वाले अखिलेश का सम्मान करने के लिए यहां पर पुरस्कार वितरण का समारोह आयोजित किया गया था।

यहां पर उत्तर प्रदेश सरकार ने खिलाड़ियों को मोटे पुरस्कारों के साथ-साथ उसे कई सुविधाएं भी उपलब्ध करवाई थी। यहां पर सर्वोच्च पुरस्कार नीरज चोपड़ा को मिला था, जिन्होंने ओलंपिक में भला खेत में स्वर्ण पदक जीतने का ऐतिहासिक काम किया।

शपथ ग्रहण समारोह

मित्रों, इकाना क्रिकेट स्टेडियम भारतरत्न श्री अटल बिहारी वाजपेई इकाना क्रिकेट स्टेडियम के बारे में चर्चा तब ज्यादा बढ़ गई जब 25 मार्च 2022 को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने अपने विधानसभा चुनाव में शानदार ऐतिहासिक जीत हासिल करके अपने शपथ ग्रहण समारोह की मेजबानी इस स्टेडियम में आयोजित की।

श्री योगी आदित्यनाथ जी के शपथ समारोह में भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी केंद्रीय मंत्री अमित शाह तथा नेशनल डेमोक्रेटिक एलाइंस के और भी कई राज्यों के मुख्यमंत्री तथा महत्वपूर्ण वीबीआईटी हस्तियां इकाना क्रिकेट स्टेडियम में आमंत्रित की गई थी, और मौजूद थे।

इसके चलते इकाना क्रिकेट स्टेडियम का नाम न्यूज़ में काफी अधिक आने लगा जैसा कि हमने आपको बताया है कि 5 नवंबर 2018 को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने इकाना क्रिकेट स्टेडियम का नाम भारतरत्न श्री अटल बिहारी वाजपेई इकाना क्रिकेट स्टेडियम के नाम पर रखा था।

निष्कर्ष

दोस्तों, आज के इस लेख में हमने आपको बताया कि भारतरत्न श्री अटल बिहारी वाजपेई इकाना क्रिकेट स्टेडियम का इतिहास क्या है, और यह क्यों चर्चा में है। साथ ही साथ हमने इकाना क्रिकेट स्टेडियम से संबंधित लगभग कई मुद्दों पर आपको जानकारी प्रदान की है।

हम आशा करते हैं कि आज का लेख पढ़ने के पश्चात भारतरत्न श्री अटल बिहारी वाजपेई इकाना क्रिकेट स्टेडियम के बारे में जानने के लिए आपको नहीं किसी लेख को पढ़ने की आवश्यकता नहीं होगी। यदि आपके मन में इस लेख से संबंधित कोई सवाल है जो आप हमसे पूछना चाहते हैं तो कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *