June 12, 2024
volleyball information in hindi wikipedia

वॉलीबॉल खेल की खोज किसने की थी? इतिहास, और निबंध

नमस्कार दोस्तो, आज के समय पूरी दुनिया भर के अंतर्गत हजारों प्रकार के खेल खेले जाते हैं, और सभी लोगों को अलग-अलग प्रकार के खेल पसंद होते हैं, जिनमें से बहुत से लोगों को वॉलीबॉल खेल काफी पसंद है। दोस्तों क्या आप जानते हैं, कि वॉलीबॉल खेल की खोज किसने की थी, यदि आपको इस विषय के बारे में कोई जानकारी नहीं है, तथा इसके बारे में जानना चाहते हैं, तो इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको इसके बारे में संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं।

हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से बताने वाले हैं, कि वॉलीबॉल खेल की खोज किसने की थी, इसके अलावा हम आपको इस विषय से जुड़ी हर एक जानकारी इस पोस्ट में देने वाले हैं।

वॉलीबॉल खेल की खोज किसने की थी? | volleyball ki khoj kisne ki

दोस्तों कई बार यह सवाल पूछ लिया जाता है, कि वॉलीबॉल खेल की खोज किसने की थी, और बहुत से लोगों को इसके बारे में जानकारी नहीं होती है, यदि आपको भी इसके बारे में जानकारी नहीं है तो आपकी जानकारी के लिए मैं बता दूं, कि वॉलीबॉल खेल की खोज का श्रेय विलियम जी॰ मॉर्गन (William G. Morgan) को दिया जाता है।

विलियम जी॰ मॉर्गन (William G. Morgan) के द्वारा ही बॉलीवुड का आविष्कार किया गया था। इनका जन्म 30 जनवरी सन 1870 के अंतर्गत अमेरिका की एक शहर यूरोप में हुआ था, और उसके बाद 27 दिसंबर 1942 को इनका देहांत हो गया था। यह एक अमेरिकी नागरिक थे, जिनको वॉलीबॉल की खोज का श्रेय दिया जाता है, तो ऐसे में यह भी कह सकते हैं, कि बॉलीवुड का आविष्कार सबसे पहले अमेरिका के अंतर्गत हुआ था।

वॉलीबॉल कैसे खेला जाता है?

volleyball meaning in hindi

दोस्तों वॉलीबॉल के अंतर्गत कुल 2 टीमें हिस्सा लेती है, तथा प्रत्येक टीम के अंतर्गत कुल 6 खिलाड़ी खेलते हैं। यह खेल एक आयताकार ग्राउंड के अंतर्गत खेला जाता है, जिसको बराबर दो भागों में विभाजित किया जाता है, तथा एक नेट के माध्यम से इस ग्राउंड को दो भागों में विभाजित किया जाता है।

इसके अंतर्गत एक बॉल का इस्तेमाल किया जाता है, जिसको एक टीम के खिलाड़ी दूसरी टीम की ओर मारते हैं, तथा फिर दूसरी टीम के खिलाड़ियों को उस केंद्र को वापस स्टीम की और भेजना होता है, और इसके लिए एक टीम के पास कुल 3 चांस होते हैं। तो ऐसे में जो भी टीम गोल को सही तरीके से नहीं भेज पाती है, बोल को ग्राउंड से बाहर भेज देती है या फिर गेंद नेट के अंतर्गत ही रुक जाती है, इसके अलावा यदि वह 3 चांस से ज्यादा ले लेते हैं, तो ऐसे में सामने वाली टीम को पॉइंट दे दिया जाता है।

Volleyball के खेल को अधिकांश जगह पर तीन सेट के अंतर्गत खेला जाता है, जिसके अंतर्गत जो भी टीम विजय प्राप्त करना चाहती है, उसको कम से कम 2 सेट जीतने होते हैं। अधिकांश समय हमें एक शर्ट कुल 25 मात्रा देखने को मिलता है, इसके अलावा विजेता टीम तथा हारी हुई टीम के पॉइंट के बीच कम से कम 2 पॉइंट का अंतर होना जरूरी होता है।

वॉलीबॉल का इतिहास in hindi | volleyball ka itihas

वॉलीबॉल का खेल प्राचीन काल से विभिन्न रूपों में खेला जाता रहा है। इस खेल को शुरू में अमेरिकी व्यापारियों के मनोरंजन के साधन के रूप में इस्तेमाल किया जाता था। यह खेल दो टीमों के बीच खेला जाता है। उस समय खेल के मैदान का साइज 25 x 50 फीट रखा जाता था। जाल की ऊंचाई 6 फुट 6 इंच, लंबाई 27 फुट और चौड़ाई 2 फुट रखी गई थी। दोनों पक्षों के खिलाड़ियों की संख्या 9-9 रखी गई और खेल 21 अंकों के लिए खेला गया।

इस खेल के प्रदर्शन को देखते हुए डॉ॰ एलयार्ड टी. हैल्स्टेड ने इस खेल को वॉलीबॉल का नाम दिया। वॉलीबॉल में वॉली का अर्थ है किसी वस्तु को लगातार हवा में फेंकते रहना। धीरे-धीरे यह गेम अमेरिका में काफी लोकप्रिय हो गया। 1947 में, 20 अप्रैल को, अंतर्राष्ट्रीय वॉलीबॉल फेडरेशन की स्थापना हुई, जिसमें फ्रांस के श्री पॉल लिबॉड पहले राष्ट्रपति चुने गए। इसका मुख्यालय फ्रांस के पेरिस शहर में रखा गया था। पहली पुरुष विश्व चैंपियनशिप 1949 में प्राग (चेकोस्लोवाकिया) में आयोजित की गई थी।

1958 में टोक्यो एशियाई खेलों में पुरुषों की वॉलीबॉल को भी शामिल किया गया था। 1964 में टोक्यो ओलंपिक में महिलाओं की वॉलीबॉल को शामिल किया गया था। इस तरह यह खेल धीरे-धीरे पूरी दुनिया में प्रसिद्ध होने लगा। तब से, वॉलीबॉल एसोसिएशन हर साल मिनी, सब-जूनियर, जूनियर और सीनियर प्रतियोगिताओं का आयोजन करता है।

वॉलीबॉल पर निबंध | short essay on volleyball in hindi

खेल अच्छे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। वॉलीबॉल भी एक ऐसा खेल है जो हमें शारीरिक रूप से फिट रखता है। इस कारण यह मेरा भी प्रिय खेल है। वॉलीबॉल का खेल 18 मीटर लंबे और 9 मीटर चौड़े खेल के मैदान में खेला जाता है।

दो टीमों के बीच खेले जाने वाले इस खेल में एक समय में प्रत्येक टीम के 6 खिलाड़ी मैदान में होते हैं। दो हिस्सों में बंटे मैदान के दोनों ओर दो-दो पोल हैं। जिसमें 9.5 मीटर लंबा और 9 मीटर चौड़ा 10 सेमी वर्गाकार जाल छोटे जालों के साथ 2 मीटर 43 सेमी की ऊंचाई पर एक विशेष जाल पर रखा गया है।

वॉलीबॉल में इस्तेमाल होने वाली गेंदों को खास तरीके से बनाया जाता है। रबर के 12 टुकड़ों से बनी मुलायम गेंद के अंदर रबर को भरा जाता है। इस गेंद का आकार लगभग 65 सेंटीमीटर से 68.5 सेंटीमीटर व्यास का होता है और इसका वजन 250 से 300 ग्राम के बीच रखा जाना चाहिए। वॉलीबॉल का एक मैच तीन पारियों में समाप्त होता है।

हर पारी के बाद दोनों टीमें अपना कोर्ट बदलती हैं। जबकि फाइनल मैच में पांच शिफ्ट रखी गई हैं। मैच के फैसले के लिए दोनों टीमों की दो-दो पारियों में जीत के बाद आखिरी पारी में खेल के 6 अंक तक पहुंचने पर कोर्ट बदल दिया जाता है. वॉलीबॉल के खेल में, एक टीम के खिलाड़ी को गेंद को अपने हाथ से मारना होता है और दूसरे कोर्ट में सतह को छूना होता है। हुह।

इस तरह, हर बार जब गेंद जमीन को छूती है, तो विपक्षी खेमे को एक अंक आवंटित किया जाता है। आखिरी पारी में न्यूनतम 15 अंक हासिल करने वाली टीम जीत जाती है। वॉलीबॉल का खेल ऊर्जा, कुशलता, नियंत्रण और प्रयास का भी खेल है।

वॉलीबॉल में फाउलिंग की संभावना ज्यादा होती है। गेंद को एक साथ दो लोगों द्वारा हिट करना या गेंद को उसके पक्ष के खिलाड़ी की कमर के नीचे छूना या बीच के जाल को छूना भी फाउल के कारण होते हैं। वॉलीबॉल एक अच्छा और स्वस्थ खेल है, हमें इसे नियमित रूप से खेलना चाहिए।

निष्कर्ष

तो इस पोस्ट के अंतर्गत हमने आपको बताया कि वॉलीबॉल की खोज किसने की थी, इसके अलावा इस विषय से जुड़ी अन्य जानकारी अभी हमने आपके साथ शेयर की है। हमें उम्मीद है कि आपको यह जानकारी पसंद आई है, फिर तो आपको इस पोस्ट के माध्यम से कुछ नया जानने को मिला है।

FAQ

वॉलीबॉल कहाँ का राष्ट्रीय खेल है? (volleyball kis desh ka rashtriya khel hai)

वॉलीबॉल श्रीलंका का राष्ट्रीय खेल माना जाता है।

वॉलीबॉल खेल का जन्मदाता देश कौन सा है?

वॉलीबॉल का उद्गम स्थल कौन सा देश है? वॉलीबॉल की उत्पत्ति 1895 की सर्दियों में, होलोके, मैसाचुसेट्स (संयुक्त राज्य अमेरिका) में, वाईएमसीए के लिए शारीरिक शिक्षा के निदेशक विलियम जी मॉर्गन ने शगल के रूप में खेलने के लिए मिननेट नामक एक नया खेल बनाया। घर के अंदर और खिलाड़ियों की संख्या से खेला गया था।

वॉलीबॉल का पुराना नाम क्या है?

वॉलीबॉल के नाम से मशहूर हुआ मिंटोनेट नाम का खेल, जानिए क्या है इसका ओलंपिक इतिहास. एक खेल जो चार अलग-अलग खेलों के रूप में शुरू होता है और बाद में खुद को दुनिया के सबसे बड़े खेल के रूप में स्थापित करता है। है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *