April 21, 2024
badminton khel ke janam janmdata

बैडमिंटन खेल के जन्मदाता किस देश को माना जाता है?

बैडमिंटन खेल के द्वारा लोग अक्सर अपनी गति और अपने मस्तिष्क की जागृति का पता करने के लिए बैडमिंटन का खेल खेलते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि बैडमिंटन का जन्म कहा हुआ? या बैडमिंटन खेल का जन्मदाता किस देश को माना जाता है?

यदि आप बैडमिंटन के बारे में यह जानकारी नहीं रखते हैं, और बैडमिंटन के बारे में सारी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं (Which country is considered to be the father of the game of Badminton?) तो आज क लेख एक में हमारे साथ अंत तक बने रहिएगा क्योंकि आज हम आपको इस लेख के माध्यम से बैडमिंटन के बारे में सारी जानकारी उपलब्ध करवाने वाले हैं।

बैडमिंटन खेल के जन्मदाता किस देश को माना जाता है?

बैडमिंटन एक रैकेट से खेले जाने वाला खेल है, और यह न केवल भारत में बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लगभग सभी देशों में खेला जाता है। यह एक अत्यंत ही उत्साह और रोमांच का खेल है। इसमें एक छोटी सी चिड़िया जिसे शटल कॉक कहा जाता है, उसके द्वारा खेला जाता है।

इसके अंतर्गत आमतौर पर दो खिलाड़ी एक दूसरे के समक्ष होते हैं, और वह इस शटल कॉक के माध्यम से खेल खेलते हैं। बैडमिंटन का खेल आमतौर पर ब्रिटिश छावनी शहर पुणे में सबसे ज्यादा लोकप्रिय रहा था। इसलिए इस खेल को पुना या पूनाई के नाम से भी जाना जाता है।

बैडमिंटन का खेल तीन प्रकार से खेला जा सकता है

  1. एकल बैडमिंटन का खेल
  2. युगल बैडमिंटन का खेल
  3. मिश्रित युगल बैडमिंटन का खेल

बैडमिंटन का खेल मूल रूप से इंग्लैंड के द्वारा खेला जाना शुरू किया गया था। भारत ने 1880 के पास ब्रिटिश छावनी पुणे में ब्रिटिश ऑफिसर बैडमिंटन का खेल खेलते थे। बैडमिंटन का खेल इंग्लैंड के ग्लोस्टरशेयर में खेला जाता था।18 वीं शताब्दी में खेल की शुरुआत हुई थी।

बैडमिंटन कैसा खेल है?

बैडमिंटन आमतौर पर एकल और युगल सदस्यों वाला खेल है, जिसमें चिड़िया जिसे शटलकोक कहा जाता है और रैकेट के माध्यम से 2 लोग या 2 जोड़ी आपस में खेल को खेलते हैं। यह एक अंतरराष्ट्रीय खेल है और इस खेल को खेलने के लिए बैडमिंटन कोर्ट का इस्तेमाल किया जाता है। जिसकी लंबाई 44 फुट और चौड़ाई 20 फुट होती है।

badminton khel ke janam janmdata kis desh ko mana jata hai
badminton khel ke janam janmdata kis desh ko mana jata hai

मैदान / स्थान के दोनों भागों के मध्य में एक नेट लगाया जाता है, जो उसे पूरे मैदान को या खेल के प्लेटफार्म को दो भागों में विभाजित कर देता है, और आधे भाग को सर्विस कोर्ट के नाम से जाना जाता है। भारत में प्रकाश पदुकोण, पुलेला गोपीचंद, साइना नेहवाल, अपर्णा पोपट, सचिन राठी, निखिल कानितकर, श्याम गुप्ता, नेहा अटवाल, यह सभी प्रमुख और प्रतिभावान बैडमिंटन खिलाड़ी रहे हैं।

बैडमिंटन कैसे सीखे?

यदि आप बैडमिंटन का खेल सीखना चाहते हैं तो यह बिल्कुल भी मुश्किल नहीं है। सबसे पहले आपको एक मोबाइल फोन में बैडमिंटन का खेल डाउनलोड कर लेना है, और उसे सबसे पहले ऑनलाइन खेलना सीखना होगा, ताकि आपको नियमों के बारे में सारी जानकारी पता हो जाए।

इसके पश्चात आपको अपने मित्रों के साथ में बैडमिंटन का खेल खेलना चाहिए। इसके पश्चात यदि आपको बैडमिंटन में और अधिक रुचि है और आप उसे राष्ट्रीय स्तर के लिए खेलना चाहते हैं तो भारत में कई ऐसी स्पोर्ट्स अकैडमी है जो बैडमिंटन खेल खेलना सिखाती है, वहां पर आपको एक बेहतरीन बैडमिंटन प्लेयर बनाती हैं। उन के माध्यम से आप बैडमिंटन को खेलना राष्ट्रीय स्तर पर सीख सकते हैं।

Also read:

वॉलीबॉल खेल की खोज किसने की थी? इतिहास, और निबंध आपको कौन सी क्रिकेट टीम पसंद है?
बैडमिंटन में कितने खिलाड़ी होते हैं? शतरंज का खेल कैसे खेला जाता है?
हॉकी को किसने भारत का राष्ट्रीय खेल बनाया? किस खेल की उत्पत्ति जबलपुर में हुई थी?
ओलंपिक हॉकी टोक्यो में कौन कौन से ग्रुप बने हुए हैं? मेरा प्रिय खेल क्रिकेट पर निबंध

निष्कर्ष

आशा है या आर्टिकल आपको बहुत पसंद आया हुआ इस आर्टिकल में हमने बताया (बैडमिंटन के खेल का जनक किस देश को माना जाता है? |Which country is considered the originator of the game of badminton?) के बारे मे संपूर्ण जानकारी देने की कोशिश की है अगर यह जानकारी आपको अच्छी लगे तो आप अपने दोस्तों के साथ भी Share कर सकते हैं अगर आपको कोई भी Question हो तो आप हमें Comment कर सकते हैं हम आपका जवाब देने की कोशिश करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *